शुक्रवार, 2 अप्रैल 2021

IAS कैसे बने

भारत में शायद ही कोई ऐसा हो जिसने कलेक्टर का नाम ना सुना हो। क्या आप जानते हैं की कलेक्टर एक आईएएस (IAS) होता है। बहुत सारे लोगों के मन में शायद अब एक सवाल उठ रहा हो की IAS का क्या है? आज के आर्टिकल में हम यही जानेंगे कि आईएएस क्या है? और कैसे बड़े होकर आप भी एक IAS Officer बन सकते है।

जो लोग बड़े होकर अपने देश के लिए कुछ करना चाहते हैं उनके लिए IAS एक बहुत अच्छा विकल्प है। वैसे भी हमारे देश में लोग सरकारी नौकरी की तरफ बहुत जायदा रूचि रखते हैं ऐसे में IAS सरकारी नौकरियों में सबसे उच्च स्थान रखता है।

IAS का चयन UPSC Civil Services परीक्षा के जरिये होता है और ये परीक्षा बहुत ही जायदा कठिन होती है। इसलिए आपको बहुत ही जायदा मेहनत करनी पड़ेगी अगर आप इस परीक्षा में सफल होना चाहते है। हर साल हर साल लाखों बच्चे इस Exam के लिए Apply करते  हैं लेकिन उनमें से केवल बच्चे ही IAS बन पाते है।

IAS बनने के लिए शहर से लेकर गाँव तक के बच्चे कड़ी मेहनत करते है। लेकिन गाँव के बच्चों को बहुत ही ज्यादा तकलीफों का सामना करना पड़ता है क्योंकि उनके पास सही मार्गदर्शन करने वाला नहीं होता है। ऐसे बच्चे किसी अच्छी कोचिंग की जगह गूगल पर ढूँढ़ते हैं कि IAS कैसे बने? या IAS की तैयारी कैसे करें? लेकिन फिर भी उन्हें सटीक जवाब नहीं मिल पाता है इसलिए हम आज का ये आर्टिकल लिख रहे है जिससे सभी को IAS से जुड़े सभी सवालो का जवाब मिल जाये।

आज के आर्टिकल में हम नीचे दी गयी बातों पे बात करने वाले है -

IAS Kaise Bane

IAS कैसे बने

IAS बनने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ती है। एक बात को हमेशा याद रखे की ये कोई स्कूल या यूनिवर्सिटी एग्जाम नहीं है जहाँ अगर आप चार दिन पहले भी पढ़ना शुरू करे तो भी आप पास हो जाये।

आईएएस बनने के लिए आपको कम से कम 1 से 2 साल तक लगातार पढ़ते रहना पड़ेगा। जायदातर लोगो को 3 से 4 साल का समय लगता है IAS बनने में तो इस बात तो ध्यान में रखे तैयारी शुरू करने से पहले। अगर आप लगातार 4 साल नहीं पढ़ सकते हो तो आपको इस एग्जाम की तैयारी भी नहीं करनी चाइये।

अगर आप सही तरीके से मेहनत करे तो आपको IAS बनने से कोई नहीं रोक सकता। IAS बनने के लिए आपको केवल कड़ी मेहनत ही नहीं बल्कि Smart Work भी करना पड़ता है क्यूंकि UPSC CS का Syllabus आपको ऐसा लगेगा जो कभी खतम ही नहीं होगा। इसलिए Reverse Engineering का इस्तेमाल करे और पहले पिछले साल के Question Paper देखे फिर तैयारी करे उसी हिसाब से। कभी भी जायदा पढ़ने की कोशिश ना करे, केवल वही पढ़े जो एग्जाम में पुछा जाता हो।

आईएएस की तैयारी के लिए आपको कभी भी पूरा पूरा अख़बार नहीं पढ़ना होता है क्यूंकि पूरा अख़बार पढ़ने में तो कई घंटे लग सकते है जो किसी के पास नहीं होते है क्यूंकि उससे भी जरुरी चीज़े पढ़ने को होती है। 

अख़बार पढ़ने में आपको बस 30 से 45 Minutes ही लगने चाइये अगर आपको इससे जायदा समय लग रहा है तो आप गलत तरह से अख़बार पढ़ रहे है। अख़बार में आपको कुछ Pages ही पढ़ने होते है और आपको Heading से पता चल जाना चाइये की आपको उसे और पढ़ना है या नहीं।

अख़बार में आपको कभी भी Sports, Entertainment, Politics या Companies से जुड़ी कोई भी News नहीं पढ़नी होती है। अब इसके बाद जो News बचेगी उसमे से आपको छाँट के अपने Syllabus के हिसाब से न्यूज़ पढ़नी है। उसके लिए आप IAS Syllabus प्रिंट कर के रख ले और रोज उसे देखा करे जिससे आपको पूरा Syllabus याद हो जाये।

10th Class पास करे

IAS बनने के लिए आपका ग्रेजुएट होना बहुत जरुरी है। इसलिए सबसे पहले तो आपको दसवीं कक्षा अच्छे से पास करनी चाइये। अगर आप पहले ही पास कर चुके है लेकिन आपका रिजल्ट जायदा अच्छा नहीं है तो भी कोई टेंशन ना ले क्यूंकि ऐसे बहुत सारे लोग आईएएस बने है जिनका High School का रिजल्ट अच्छा नहीं था। 

दसवीं क्लास में आपके पास कौनसे Subjects है ये मायने नहीं रखता है। बस आपके Result पे Pass लिखा होना चाइये। साथ ही ये भी मायने नहीं रखता है की आपने कौनसे बोर्ड से पास किया है। IAS के Interview में आपका आज देखा जायेगा की आज आप कौन है?

12th Class पास करे

हम सभी जानते है की हर जगह हमारा 10th और 12th का Result देखा जाता है इसलिए उन्हें जितना अच्छा रखा जाये उतना अच्छा है। IAS बनने के लिए आप 12th किसी भी Stream से कर सकते है चाहे वो Science हो, Commerce हो या Arts हो।

जो लोग अभी 12th में है और तैयारी शुरू करना चाहते है उन्हें पहले पुरानी Class की NCERT Books पे देना चाइये। हमारे साथ ये होता है की हम आगे पढ़ते जाते है और पुराना भूलते जाते है इसलिए पहले सभी NCERT Books का अच्छे से Revision करे की आपको सब Books अच्छे से रट जाये। जिससे ग्रेजुएशन में जाने पे आप Advanced Books पे ध्यान दे पाए। साथ ही हो सके तो English Newspaper पे थोड़ा ध्यान देना शुरू कर दे। अगर आप Hindi Medium से भी है फिर भी आपको English Newspaper पढ़ना आना चाइये। 

हालाँकि आपका Selection 12th के मार्क्स के ऊपर नहीं होगा लेकिन फिर भी एक अच्छा Score लाने के कोशिश करे। पर अगर आप 12th पास कर चुके है और उसमे आपकी Percentage बहुत कम है तो भी कोई परेशानी वाली बात नहीं क्यूंकि फिर भी आप एक IAS Officer बन सकते है अगर आप आगे मेहनत करने को तैयार है।

ग्रेजुएशन पूरी करे

IAS बनने के लिए आपका ग्रेजुएट होना बहुत जरुरी है फिर वो चाहे किसी भी Subject से हो क्यूंकि IAS का एग्जाम आप किसी भी Optional Subject से दे सकते है चाहे वो आपके पास ग्रेजुएशन में हो या नहीं। 

हालाँकि कोशिश करे की आपका ग्रेजुएशन और ऑप्शनल सब्जेक्ट एक ही हो इससे आपको थोड़ी आसानी होगी UPSC Civil Services के एग्जाम में। लेकिन कई लोग ग्रेजुएशन से अलग ऑप्शनल सब्जेक्ट भी लेते है और आईएएस बनने में कामयाब भी होते है। अगर आप एक नया ऑप्शनल सब्जेक्ट चुनते है तो कोचिंग करना थोड़ा फायदेमंद होता है।

अगर हो सके तो IAS की तैयारी ग्रेजुएशन की पहली साल से ही करदे क्यूंकि IAS का Syllabus बहुत जायदा होता है और अगर आप तैयारी जल्दी शुरू कर देते है तो आपको थोड़ी आसानी होगी।

UPSC Civil Services के बारे में जाने 

IAS, जिसे हम Indian Administrative Service भी बोलते है, का चयन UPSC Civil Services (UPSC CS)के जरिये होता है। UPSC CS को भारत की सबसे कठिन परीक्षा माना जाता है जिसके पीछे कई वजह है जैसे की बहुत जायदा Syllabus, सबसे जायदा Papers, Selection Percentage बहुत कम। 

आईएएस परीक्षा तीन चरणों में होती है - 

  • प्रारंभिक परीक्षा ()
  • मुख्या परीक्षा ()
  • साक्षात्कार ()

सबसे पहले आपको Optional Subject की तैयारी करनी चाइये क्यूंकि उसका Syllabus बहुत जायदा होता है और कई बार लोग प्रारंभिक परीक्षा पास करके मुख्या परीक्षा में फ़ैल हो जाते है Optional Subject की वजह से। 

प्रारंभिक परीक्षा पास करे

सबसे पहले आपको UPSC सिविल सर्विसेज की प्रारंभिक परीक्षा पास करनी पड़ेगी। प्रारंभिक परीक्षा (Prelims) में एक ही दिन में दो पेपर होते है -

Paper 1 - General Studies

Paper 2 - CSAT 

मुख्या परीक्षा पास करे

सबसे पहली बात ये की मुख्या परीक्षा एक लिखित परीक्षा (Written Examination) है। इसमें आपके 9 पेपर होते है जिसमे से दो Qualifying होते है मतलब उनके Marks नहीं जुड़ते।

मुख्या परीक्षा बहुत ही कठिन होती है क्यूंकि यहाँ कुछ भी Objective नहीं की अगर आपको उत्तर पूरी तरह से ना भी पता हो तो भी जवाब दे दे। इसलिए इसके लिए आपको बहुत ही अच्छे से तैयारी करनी पड़ेगी। मुख्या परीक्षा लगभग 4 महीने बाद होती है प्रारंभिक परीक्षा के जिसमे तैयारी नहीं की जा सकती है इसलिए आपकी मुख्या परीक्षा की तैयारी पहले से होनी चाइये।

चलिए अब मुख्या परीक्षा के सभी पेपर्स के बारे में जानते है -

अच्छे से Interview दे

सबसे आखिरी में इंटरव्यू होता है इसमें इंसान के बारे में जाना जाता है की इंसान की सोच कैसी है और मुश्किल परिस्थितियों में वो कैसा व्यव्हार करता है। साथ ही आपकी रुचियों, पढाई और शहर के बारे में पुछा जा सकता है। इसके अलावा Current Affairs अच्छे से तैयार करे और अपना Optional Subject क्यूंकि इनसे हमेसा सवाल पूछे जाते है।

LBSNA में IAS की ट्रेनिंग करे

अगर UPSC Civil Services में आप अच्छी रैंक से पास हो जाते है और IAS बन जाते है तो आपकी पूरी ट्रेनिंग लाल बहादुर शास्त्री नैशनल अकादमी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन (LBSNAA), मसूरी में होगी।

ये ट्रेनिंग लगभग दो साल तक चलती है जिसमे आपको अलग अलग चीज़े सिखाई जाती है जिससे आप पोस्टिंग होने पे अच्छे से अपनी जिम्मेदारियों को संभल पाए। हो सके तो ट्रेनिंग में भी अपना अच्छा प्रदर्शन दे।

IAS full form

IAS की फुल फॉर्म Indian Administrative Service होती है। ये तीन All India Service में से एक है। बची हुयी दो आल इंडिया सर्विस को हम Indian Police Force (IPS) और Indian Forest Service (IFS) के नाम से जानते है। 

IAS Syllabus 

IAS का Syllabus बहुत ही जायदा है होता है जिसे पढ़ के ख़तम कर पाना कोई आसान बात नहीं होती है। इसलिए कुछ भी सिलेबस के बहार का पढ़ने की कोशिश ना करे। 

अक्सर नए लोग तैयारी के समय क्या करते है की ये भी पढ़ लो वो भी पढ़ लो बिना जाने की ये Syllabus का हिस्सा है भी या नहीं। और अगर सिलेबस का हिस्सा है भी तो इसके एग्जाम में आने के कितने Chances है। UPSC Civil Services का एग्जाम पास करके IAS वही बन पता है जो Hard Work के साथ साथ Smart Work करना भी जनता हो। इसलिए आपको पढ़ाई में भी थोड़ी चालाकी दिखानी पड़ेगी तभी जा के आप IAS का Syllabus खतम करके एक दिन IAS बन पाएंगे।

IAS का Syllabus हम आपको हर पेपर के हिसाब से बतएने -

आईएएस प्रीलिम्स सिलेबस - पेपर १ और पेपर २

IAS माईनस सिलेबस - पेपर १, पेपर ।  पेपर ३, पेपर ४


IAS Salary

IAS की एंट्री लेवल पे हाथो में आने वाली सैलरी लगभग 40,000 होती है। शायद ये Salary कुछ लोगो को कम लगे प्राइवेट नौकरी की तुलना में लेकिन ऐसा नहीं है क्यूंकि IAS पे कोई खर्चा नहीं होता है। प्राइवेट या Corporate नौकरी करने वाले जायदातर बड़े मेट्रो Cities में रहते है जहाँ उनका जायदातर पैसा घर, बिजली, गाडी का तेल, टेलीफोन, मोबाइल और इंटरनेट जैसी जरुरी सुविधा में खर्च हो जाता है। वहीँ देखे तो IAS के लिए ये सब फ्री होता है या बिलकुल ना के बराबर पैसे देने पड़ते है। इसलिए कभी भी बस Salaries की तुलना ना करे क्यूंकि IAS बनने पे समाज में एक अलग इज्जत मिलती है साथ ही आपके पास कई सारी Powers भी होती है। 

चलिए अब आईएएस के हर पद के लिए Salary जानने की कोशिश करते है -

Grade Pay Scale (Rs) Grade Pay (Rs) कितने सालो की नौकरी चाइये होती है पद
Junior Time Scale 50,000 - 1,50,000 16500 0 Sub Divisional Magistrate (SDM)/ उपजिलाधिकारी
Senior Time Scale 50,000 - 1,50,000 20,000 5 District Magistrate (DM)/ जिला मजिस्ट्रेट /Joint Secretary
Junior Administrative Grade 50,000 - 1,50,000 23,000 9 Special Secretary/ Head of Govt. Departments
Selection Grade 1,00,000 - 2,00,000 26,000 12 - 15 Secretary
Super Time Scale 1,00,000 - 2,00,000 30,000 17 - 20 Principal Secretary
Above Super Time Scale 1,00,000 - 2,00,000 30,000 तय नहीं है तय नहीं है
Apex Scale 2,25,000 लागू नहीं तय नहीं है Chief Secretary of State/ Secretary of GoI Ministries
Cabinet Secretary Grade 2,25,000 लागू नहीं तय नहीं है Cabinet Secretary of India


IAS Perks & Benefits

ये हर कोई जनता है की सरकारी नौकरी में Job Security बहुत जायदा अच्छी होती है। क्यूंकि IAS भी एक सरकारी नौकरी है इसलिए इसमें भी Job Security बहुत अच्छी है। किसी IAS को नौकरी से निकलने से पहले एक समिति गठित की जाती है जो पूरी Enquiry करती है और उसके बाद उसकी रिपोर्ट केंद्र सरकार को दी जाती है, और वहां से ये Parliament तक पहुँचती है।

हर IAS को बेस्ट क्लास मेडिकल सुविधा दी जाती है। क्यूंकि ये बहुत ही महत्वपूर्ण पद है इसलिए सब चीज़ो का अच्छे से ध्यान रखा जाता है। अगर में देखे तो हर साल मुश्किल से 100 IAS बनते है।

IAS को हमेशा एक सरकारी गाड़ी और ड्राइवर मिलता है। गाड़ी के आगे हमेसा IAS का पद लिखे रहता है और साथ में जिस भी सरकारी विभाग को वो संभल रहा होता है। इसके सिवा गाड़ी के लिए तेल और मेंटेनेंस का भी पैसा आता है सरकाए की तरफ से। साथ ही गाड़ी पे लाल बत्ती लगाने को भी मिल जाती है कुछ सालो की नौकरी के बाद। जब भी कोई बड़ा IAS शहर में आता है तो हर चौराहे पे ट्रैफिक पुलिस तैनात की जाती है और साथ ही जहाँ से भी उसकी गाड़ी निकलती है वहां पे खड़े पुलिस वाले उसको Salute मारते है। 

जब भी IAS कोई पब्लिक डीलिंग वाला पद संभालता है तो उसे और उसके परिवार की Security के लिए 24*7 पुलिस वाले दिए जाते है जो बंदूकों से तैनात होते है।

इसके सिवा IAS भारत में जब भी कहीं जाता है घूमने या सरकारी काम से तो उसके ठहरने के लिए सरकारी गेस्ट हाउस में व्यवस्था होती है जो की बहुत ही कम कीमत पे उपलब्ध होता है। साथ ही दिल्ली में हर प्रदेश का प्रदेश भवन है जहाँ IAS रुकते है जब भी दिल्ली किसी काम से जाते है।

इसके सिवा IAS पढ़ने के लिए 2 साल की छुट्टी भी ले सकते है। पढाई के लिए भारत सरकार का कुछ विदेशी नामी यूनिवर्सिटीज के साथ Contact भी है जहाँ IAS का चयन आसानी से हो जाता है और वहां पढ़ाई कर सकते है। सबसे अच्छी बात पूरी पढाई का खर्चा सरकार उठती है। लेकिन इसके लिए आपकी कम से कम 7 साल की नौकरी पूरी हो जानी चाइये और पढ़ाई के तुरंत बाद आप नौकरी नहीं छोड़ सकते है। और अगर छोड़ना चाहते है तो आपको पैसे भरने पड़ते है जो सरकार ने आपकी पढ़ाई पे खर्च किये हो।

इसके सिवा IAS को जायदातर एक अच्छा Fully Furnished घर मिलता है। साथ में उस घर को सँभालने के लिए कुछ कर्मचारी जैसे की खाना बनाने के लिए, घास और पेड़ो का ध्यान रखने के लिए, घर के लिए सामान वगेरा लेन के लिए, आदि। हर जिले में कलेक्टर का घर तो सभी ने देखा होगा की उसका घर कितना बड़ा होता है।

आईएएस के लिए कोचिंग कहाँ  से करे?

आज के समय में किसी भी एग्जाम को बिना कोचिंग के पास करना बड़ा मुश्किल सा हो गया है, जायदातर सिलेक्शन वाले बच्चे कोचिंग के ही होते है। इसलिए जब बात आईएएस की आती है तो बच्चो को लगता है की बिना कोचिंग के तो UPSC कस पास ही नहीं किया जा सकता वो भी इतनी अच्छी रैंक के साथ की आईएएस बन जाये।

लेकिन भारत का एकलौता ये एक ऐसा एग्जाम है जिसे बिना कोचिंग के भी पास किया जा सकता है वो भी अच्छी रैंक के साथ। आईएएस का पेपर इस तरह से सेट किया जाता है की बिना कोचिंग वाले बच्चे भी इसको पास कर पाए। इसलिए अगर ये पता है की क्या पढ़ना है और आप खुद से बेथ भी पढ़ सकते है तो आप को आईएएस बनने से कोई नहीं रोक सकता।

बहुत सारे बच्चे कोचिंग में जाके अपना समय और पैसा दोनों बर्बाद कर देते है और वहां से इतना फायदा नहीं ले पाते जितने की उन्हें उम्मीद होती है। लेकिन ये बात उन्हें बाद में समाज आती है जबतक उनका समय और पैसे दोनों बर्बाद हो चुके होते है। अगर आपके पास समय और पैसे की कोई कमी नहीं है तो आपको कोचिंग जरूर करनी चाइये क्यूंकि आपको कुछ ना कुछ जरूर सीखने को मिलेगा जो शायद आप खुद से तैयारी करते हुए Miss करदे।  

किसी भी चीज़ को करने और ना करने के कुछ फायदे और कुछ नुक्सान होते है। इसलिए हम दोनों को जानेंगे जिससे आप अपनी स्तिथि देखते हुए ये निर्णय ले सके की आपको आईएएस के लिए कोचिंग करने की जरुरत है या नहीं।

IAS के लिए कोचिंग क्यों करनी चाइये

कोचिंग का सबसे अच्छा फायदा ये होता है की आपका एक एक रूटीन बन जाता है जिसकी वजह से आपकी डेली तैयारी चलती रहती है। लेकिन आईएएस बनने के लिए ये काफी नहीं है क्यूंकि आपके अंदर से भी लगन होनी चाइये आईएएस बनने की तभी आप IAS बन पाएंगे।

कोचिंग में आपके कुछ अच्छे दोस्त बन सकते है जिनके साथ कुछ चीज़े डिसकस कर सकते है पढ़ाई से सम्बंधित और साथ ही अगर आपको कुछ समझ नहीं आ रहा हो तो आप उनसे भी एक बार पूछ सकते है।

कोचिंग के साथ आप Test Series भी Join कर सकते है जिससे आपको कुछ हद तक अपनी तैयारी के बारे में पता चलते रहेगा की आपकी तैयारी सही रस्ते पे भी है या नहीं। साथ ही आपको Exam Pattern भी समझ आने लगता है की किताब से आपको क्या पढ़ना है और कैसे सवाल बन सकता है।

कोचिंग में आपको अच्छे टीचर्स भी मिल जाते है जो आपको अच्छे नोट्स बनवा देते है जिससे आपको आखिरी समय में रेविसिओं करने में आसानी होती है क्यूंकि IAS का सीलबस बहुत जायदा होता है और कई बार बच्चे पूरी साल किताबें पढ़ते रहते है लेकिन कोई नोट्स ना बनाने की वजह से आखिरी समय में रेविसिओं नहीं कर पाते जिसकी वजह से उनका एग्जाम बिगड़ जाता है।

IAS के लिए कोचिंग क्यों नहीं करनी चाइये

जायदातर आईएएस की कोचिंग में बहुत जायदा बच्चे होते है जिसकी वजह से टीचर हर बच्चे को बहुत ही कम समय दे पाते है। अंत में कोचिंग बस एक Notes बनवाने के लिए रह जाती है और बहुत से बच्चो के Doubts अधूरे रह जाते है।

आईएएस की कोचिंग में बच्चे बहुत जायदा होते है जिसकी वजह से Classroom बहुत जायदा बड़े होते है और क्लासरूम में आगे बैठने के लिए बहुत लम्बी लम्बी लाइन लगती है। अगर आप आगे बैठना चाहते है तो आपको जल्दी आके लाइन में लगना पड़ेगा जिसकी वजह से आपका बहुत समय बर्बाद होगा।

IAS की परीक्षा एक लिखित परीक्षा है और जब बच्चे कोचिंग करके आते है तो उनके उत्तर कहीं ना कहीं एक से होते है जिससे की कोचिंग वाले बच्चे आम बन जाते है। हमेशा अच्छा स्कोर उसी का आता है जिसने या तो खुद से तैयारी की हो या कोचिंग के साथ साथ खुद से भी किताबें पढ़ी हो और नोट्स बनाये हो जो उसे और बच्चो से अलग बनते हो।

IAS की कोचिंग बहुत ही महंगी होती है और बहुत सारे लोगो पे इतने पैसे नहीं होते नहीं है की वो इतने पैसो का इंतज़ाम कर पाए। साथ ही आपको जो वहां पे पढ़ाया जायेगा वो आप किसी भी अच्छी कोचिंग के नोट्स खरीद के खुद से पढ़ सकते है क्यूंकि आईएएस का एग्जाम कभी भी बिना किताबें पढ़े पास नहीं होता है।

IAS के लिए कौनसी किताबें पढ़े?

ये सवाल लगभग सभी बच्चो का होता है की आखिर पढ़े क्या? बाजार में इतनी सारी किताबें होती है की दिमाग ही चकरा जाता है और साथ ही नशीहत देने वाले भी इतने होते है की ये किताब पढ़ लो या ये किताब पढ़ लो। ऐसे ही कुछ भी समझ नहीं आता है की क्या सही रहेगा और क्या सही नहीं रहेगा।

हमेशा कम से कम किताबें खरीद के लाये और पहले उन्हें पूरा पड़ने की कोशिश करे। शुरुआत हमेशा आपको NCERT Books से नहीं करनी चाइये क्यूंकि उन थोड़ी सी Books से हमेशा UPSC Civil Services के Exam में सवाल आते है। उसके बाद आपको एडवांस्ड किताबों पे बढ़ना चाइये।

IAS की तैयारी हमेशा ये देखते हुए करे की किस टॉपिक या किताब से आपको कितने Marks मिल जायेंगे। किसी भी एक टॉपिक पे किताबें बस इसलिए ना पढ़ते रहे की वो आपको जायदा अच्छा लगता है। हर टॉपिक को बराबर समय दे अगर आप एक अच्छा सक्रोने पाना चाहते है UPSC सिविल सर्विसेज में।

IAS के लिए कौनसा अख़बार पढ़े?

अक्सर बच्चे इस दुविधा में रहते है की IAS की तैयारी के लिए कौनसा अख़बार पढ़े या आईएएस की तैयारी के लिए कौनसा Newspaper पढ़े। आपको कभी भी इस बात पे जायदा ध्यान नहीं देना है। 

आप जो भी अख़बार पड़ते आ रहे है उसे पढ़ते आये और अगर आपको लगता है की कुछ छूट ना जाये तो आप किसी भी कोचिंग की Monthly Current Affairs Magazine लेले।

IAS की तैयारी के Best English Newspapers -

  • The Hindi
  • Indian Express
  • Times of India
  • Business Standard
  • BBC

IAS की तैयारी के लिए Best Hindi Newspapers -

  • दैनिक ट्रिब्यून 
  • दैनिक जागरण 
  • दैनिक भास्कर 
  • नवभारत टाइम्स 
  • जनसत्ता

आज क्या ज्ञान पाए

तो आज हमने जाना की - 

  • IAS Kaise Bane
  • IAS Full Form
  • IAS Syllabus

अगर अब भी आपके मन में किसी भी तरह का प्रशन हो तो हमे नीचे कमेंट में जरूर बताये। हम आपके प्रशन का जल्द से जल्द उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

तो दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट - IAS कैसी बने, अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ Share जरूर करे। इससे आपके दोस्तों को भी कुछ अच्छा सीखने को मिलेगा। भविस्य में ऐसे आर्टिकल पढ़ते रहने के लिए हमारे ब्लॉग को Follow जरूर करे।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें