गुरुवार, 10 सितंबर 2020

B.Tech क्या है? B.Tech कैसे करे?

आज के समय में हर देश के तरक्की की बुनियाद इंजीनियर पे टिकी है। जिस देश में जितने अच्छे इंजीनियर वो देश उतनी ही अच्छी तरक्की कर सकता है। अगर हम दुनिया के सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देश देखे तो सब टेक्नोलॉजी के फील्ड में बहुत आगे मिलेंगे। तो हम समझ सकते है की देश की तरक्की में इंजीनियर और साइंटिस्ट का कितना बड़ा रोल होता है।

ये तो शायद सभी जानते होएंगे की इंजीनियर बनने के लिए आपको बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी (बी Tech) में डिग्री लेनी पड़ती है। और आज के समय में अच्छा इंजीनियर बनने के लिए लोग आगे और पढ़ना पसंद करते है। उसके लिए लोग मास्टर ऑफ़ टेक्नोलॉजी (M Tech) में डिग्री लेते है। इसके बाद जिनकी रूचि पढ़ाने में या रिसर्च में होती है वो लोग डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी (Phd) में भी डिग्री लेते है।

B.Tech क्या है?

बी टेक की फुल फॉर्म "बैचलर ऑफ़ टेक्नॉलजी" होती है। ये डिग्री चार साल की होती है और ये एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है। डिग्री के पूरा होते ही आप इंजीनियर बन जाते है। बी टेक के अंदर कई फ़ील्ड्स होते है जैसे की - मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, सिविल, इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर साइंस, केमिकल, ऐरोस्पेस, आदि।

भारत में B Tech Collages की कोई कमी नहीं है। आप किसी भी मान्यता प्राप्त सोल्लगे से बी टेक कर सकते है। बस इतना ध्यान दे की आप किसी फ़र्ज़ी Collage के चक्कर में ना फस जाये क्यूंकि बहुत सरे ऐसे Collage भी खुले हुए जिन्हे सरकार से मान्यता प्राप्त नहीं है और उनकी डिग्री की कोई वैल्यू नहीं होती।

B.Tech कैसे करे?

B.Tech में एडमिशन पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। इसके लिए कुछ एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया बनाये गए है जिनका होना बहुत जरुरी होता है। और उसके बाद आपको B.Tech के लिए होने वाले एंट्रेंस एक्साम्स में अच्छी रैंक लानी पड़ेगी।

B .Tech के लिए योग्यता मानदंड (Eligibility Criteria for B tech in Hindi)

  • सबसे पहले तो आप 12th पास होने चाइये। 
  • दूसरा आपके पास 12th में फिजिक्स, केमिस्ट्री, और मैथ्स का होना जरुरी है। 
  • तीसरा आप मिनिमम परसेंटेज क्राइटेरिया पूरा करते हो। इसमें SC/ST समुदाय के लोगो के लिए कुछ छूट है।  

B .Tech के लिए होने वाले एंट्रेंस एक्साम्स

जितने भी अच्छे Collages है उनमे दाखिला एंट्रेंस एग्जाम के जरिये ही होता है। B .Tech के लिए दो एक्साम्स सबसे जायदा फेमस है। पहला JEE Mains और दूसरा JEE Advanced। 

JEE Mains के जरिये NIT और अन्य Collages में दाखिला मिलता है। JEE Mains में अच्छी रैंक आने पे आप JEE Advanced का एग्जाम दे सकते है। JEE Advanced का एग्जाम IIT में एडमिशन के लिए होता है। इन दोनों एग्जाम के अलावा हर स्टेट के अपने एंट्रेंस एग्जाम भी  है। 

B.Tech किस ब्रांच में करे

अगर हम देखे तो साइंस को पढ़ना और समझना बहुत ही मुश्किल होता है। ये एक इंसान के बस की बात नहीं होगी की वो पूरी साइंस और इंजीनियरिंग को समझ ले इसलिए इंजीनियरिंग को कई हिस्सों में बांटा गया जिनको हम ब्रांच भी बोलते है। इंजीनियरिंग की बहुत सारी ब्रांचेस  होती है, उन्ही में से जायदा पॉपुलर वाली ब्रांचेस में नीचे लिख रहा हूँ। 

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस
  • केमिकल इंजीनियरिंग

मैकेनिकल इंजीनियरिंग

मैकेनिकल इंजीनियरिंग एक बहुत ही पुरानी ब्रांच है क्यूंकि दुनिया में शायद ही कोई ऐसी चीज़ हो जो इसके बिना बनी हो। आज भी लगभग हर सेक्टर में मैकेनिकल इंजीनियर की जरुरत पड़ती है। 

सबसे अच्छी बात ये है की इस ब्रांच की सरकारी नौकरियां बहुत जायदा निकलती है। तो अगर आप सरकारी नौकरी करना चाहते है तो इसमें इंजीनियरिंग कर सकते है।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग एक बहुत ही पुरानी ब्रांच है इंजीनियरिंग की मगर मैकेनिकल और सिविल इंजीनियरिंग से नयी। ये वो ब्रांच है जिसने पूरी दुनिया को ही बदल डाला। आज के समय में शायद ही आप कोई चीज़ बिना बिजली के इस्तेमाल कर पाए। इसके अंदर आपको बिजली और उससे जुडी डिवाइस के बारे में पढ़ाया जाता है।

इस ब्रांच में आपको खूब प्राइवेट और सरकारी नौकरियां मिल जाएँगी। इस ब्रांच का भविस्य आगे भी बहुत अच्छा है इसलिए बिना किसी संकोच के इसमें इंजीनियरिंग करे। 

सिविल इंजीनियरिंग

सिविल इंजीनियरिंग एक बहुत ही पुरानी ब्रांच है। हम सभी जानते है की हम लोग कब से पक्के घर बना रहे है। इसके अंदर आपको कंस्ट्रक्शन के बारे में सिखाया जाता है चाहे वो आपका बिल्डिंग का हो, या ब्रिज का, या रोड का, या डैम का, या कैनाल का, या सीवेज का। तो आप सोच सकते है की इनका कितना बड़ा रोल है देश ले डेवलपमेंट में।

इस ब्रांच की किसी भी ब्रांच से जायदा सरकारी नौकरी होती है। तो सरकारी नौकरी पाने के लिए इससे बेहतर कोई ऑप्शन नहीं। और ये ऐसा काम है जो कभी भी ख़तम नहीं होने वाला है। 

नोट: बिल्डिंग की डिज़ाइन करने वाले अलग लोग होते है जिन्हे हम आर्किटेक्ट (Architect) बोलते है। उसके लिए आपको B.Arch में डिग्री लेनी होती है। सिविल इंजीनियरिंग में उससे जुड़ा ना के बराबर पढ़ाया जाता है।

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग काफी नयी ब्रांच है। ये ब्रांच इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में से ही कट के बानी है। आज भी इसे कुछ Collages में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के साथ ही पढ़ाया जाता है।

इसके अंदर आपको कम वोल्ट वाली डिवाइस की स्टडी कराई जाती है, जैसे की इंटीग्रेटेड सर्किट्स, ट्रांजिस्टर, Diodes। इस ब्रांच में बहुत ही जायदा रिसर्च चल रही है और रोज नयी नयी चीज़े बनती है। हर रोज आप इसको अपने मोबाइल, टीवी, कंप्यूटर, लैपटॉप, फ्रिज, एयर कंडीशनर जैसी डिवाइसेस में इस्तेमाल करते है।

कंप्यूटर साइंस

कंप्यूटर साइंस आज के समय की सबसे पॉपुलर ब्रांच है। एक बात में आपको क्लियर कर देना चाहता हूँ की इस ब्रांच का कंप्यूटर हार्डवेयर से कोई लेना देना नहीं होता है। कंप्यूटर हार्डवेयर, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग का हिस्सा है, जिसे सीखने के लिए आपको MTech करनी पड़ेगी।

कंप्यूटर साइंस बस और बस सॉफ्टवेयर से जुड़ी होती है। इसमें आपको ऑपरेटिंग सिस्टम (OS), Algorithm, प्रोग्रामिंग, कम्पाइलर डिज़ाइन, बेसिक हार्डवेयर नॉलेज जैसी चीज़े सिखाई जाती है। 

इस ब्रांच में सरकारी नौकरी तो आप भूल ही जाये। इसमें प्राइवेट जॉब्स के बहुत अच्छे विकल्प है। आजकल हर कंपनी को कंप्यूटर साइंस के बन्दे की जरुरत पड़ती है जो भी डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक्स से कहीं ना कहीं जुड़े है।

केमिकल इंजीनियरिंग

इस ब्रांच के बारे में लोग जायदा जानते नहीं है पर इसमें अच्छी नौकरियां मौजूद है। इस ब्रांच में केमिकल रिएक्शंस, प्लांट डिज़ाइन, हीट ट्रांसफर और मास ट्रांसफर जैसे चीज़े पढाई जाती है। इसमें आपको बस प्राइवेट नौकरी ही मिलेगी। 

B.Tech में कितनी फीस होती है?

अब बात आती है की BTech करने में कितना खर्चा आता है। बहुत सारे लोगो की आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं होती है जिसकी वजह से वो पहले ही जानना चाहते है की इस डिग्री में कितना खर्चा आने वाला है। आपकी फीस आपके Collage पे निर्भर करेगी।

अगर आप किसी भी सरकारी Collage से BTech करते है तो आपका खर्चा काफी कम आने वाला है। सरकारी Collage में आपका साल का तकरीबन 1 लाख का खर्चा आएगा और वही पे प्राइवेट इंस्टिट्यूट में आपका हर साल 2 से 3 लॉक का खर्चा आएगा।

B.Tech के बाद कितनी Salary मिलती है?

अगर हम देखे तो ब। टेक के बाद और डिग्रीयो के मुकाबले काफी अच्छी सैलरी मिल जाती है। अगर आप अपने Collage से प्लेसमेंट लेते है तो आपका प्लेसमेंट तकरीबन 25 से 30 हज़ार महीने का हो जायेगा। आपको इससे जायदा सैलरी भी मिल सकती है पर वो आप पे और आपके Collage पे निर्भर करेगी। 
अच्छे Collages में अच्छी Salary मिल जाती है। इसलिए Btech एंट्रेंस एग्जाम के लिए बहुत अच्छे से मेहनत करे। अच्छे कलागेस में आपको १ लाख महीना या उससे जायदा की भी सैलरी मिल सकती है।

भारत में टॉप B.Tech Collages

  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (IIT) - मद्रास, दिल्ली, मुंबई, कानपूर, खरगपुर, रूरकी, गुवाहाटी, हैदराबाद
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (NIT) - त्रिची 
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (IIT) - इंदौर, वाराणसी, धनबाद
  • अन्ना यूनिवर्सिटी
  • VIT यूनिवर्सिटी
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (NIT) - राउरकेला 
  • जादवपुर यूनिवर्सिटी
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी, मुंबई 
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (NIT) - कालीकट
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (IIT) -भुबनेश्वर, गांधीनगर, रोपर, पटना

B.Tech के बाद क्या करे?

शायद एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट के पास सबसे जायदा करियर ऑप्शन होते है। हम देख भी सकते है हमे इंजीनियरिंग स्टूडेंट हर जगह मिल जाते है।
GATE: ये एक एग्जाम है जिसे हर साल IIT कराता है। इसके जरिये B.Tech में एडमिशन मिलता है, और कुछ IITs  में पीएचडी में भी। इतना ही नहीं इसके जरिये PSU Companies में भी भर्ती होती है जैसे की BPCL, Coal India. इसका मतलब B.Tech के बाद बस एक एग्जाम देके आप पढ़ भी सकते है और नौकरी भी पा सकते है। और  PSU Companies में Salary भी बहुत अच्छी होती है क्यूंकि ये सेमि गवर्नमेंट होती है।
CAT: ये भी एक एग्जाम है जिसके जरिये MBA में एडमिशन मिलता है। मतलब B.Tech के स्टूडेंट अपना करियर इंजीनियरिंग से चेंज करके मैनेजरियल फील्ड में जा सकते है।
Civil Services: आज भी Civil Services का अलग ही क्रेज है भारत में। हर साल लाखों बच्चे एग्जाम देते है। इनमे से कई इंजीनियरिंग बैकग्राउंड के भी होते है। तो अगर आप एडमिनिस्ट्रेशन में जाना चाहते है तो इसको भी अपना करियर चुन सकते है। इसके लिए UPSC Civil Services का पेपर देना होगा। या स्टेट का होने वाला एग्जाम भी आप दे सकते है जैसे की UPPSC PCS.

आज क्या ज्ञान पाया

तो आज हमने जाना की B.Tech क्या है? और B.Tech कैसे करे?। साथ में हमने उससे जुड़ी और भी जानकारियाँ जानने की कोशिश की जैसे की B.Tech के बाद कितनी Salary मिलती है और B.Tech किस ब्रांच में करे। 

अगर आपको किसी भी तरह की दिक्कत आ रही हो तो हमे नीचे कमेंट में जरूर बताये। हम आपके प्रशन का जल्द से जल्द उत्तर देने का प्रयास करेंगे और आपकी सहायता करना चाहएंगे। 

तो दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट - B.Tech कैसे करे?, अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ Share जरूर करे। इससे आपके दोस्तों को भी कुछ अच्छा सीखने को मिलेगा। भविस्य में ऐसे आर्टिकल पढ़ते रहने के लिए हमारे ब्लॉग को Follow जरूर करे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें